द्रोणाचार्य के लिए योगी पहली पसंद!

राजेंद्र सजवान
राष्ट्रीय खेल अवार्डों के लिए गहमा गहमी शुरू हो गई है| तमाम खेल संघ अपने अपने चैम्पियन खिलाड़ियों और कोचों के नामों की सिफारिश कर रहे हैं| जहाँ तक खिलाड़ियों की बात है तो बड़े नाम वाले खिलाड़ी देश मे ज़्यादा नहीं हैं और हमारे पास अच्छे कोच भी गिनती के हैं|चूँकि भारतीय खेलों को अपने गुरुओं पर भरोसा नहीं रहा इसलिए अधिकांश खेल विदेशी गुरुओं की मदद ले रहे हैं| लेकिन जब द्रोणाचार्य अवार्डों की बात आती है तो दावेदारों की लंबी कतार लग जाती है| यही सब इसबार भी हो सकता है|

टोक्यो ओलंपिक मे कौन खिलाड़ी देश के लिए पदक जीत सकते हैं, इस कसौटी पर अपने प्रमुख खिलाड़ियों को परखें तो सबसे पहला नाम बजरंग पूनिया का आता है| जेवलिन थ्रोवर नीरज चोपड़ा, मुक्केबाज़ अमित, एथलीट हिमा दास, दुति चन्द, सिंधु, सायना जैसे खिलाड़ी भी देश के लिए पदक जीत रहे हैं| ऐसे मे उस खिलाड़ी के कोच को द्रोणाचार्य अवार्ड मिलना चाहिए, जिसकी उपलब्धियाँ बढ़ चढ़ कर रही हों| बेशक बजरंग पूनिया श्रेष्ठ बैठते हैं और इसबार उन्हें खेल रत्न मिलना चाहिए| पिछली बार कुछ तकनीकी कारणों से चूक गयेथे| तो फिर उनके गुरु उनके गुरु योगेश्वर दत द्रोणाचार्य सम्मान के हकदार बनते हैं| गुरु हनुमान अखाड़े के कोच स्वर्गीय रामधन और सुजित मान का दावा भी ख़ासा मजबूत बैठता है|

राम धन ने सैकड़ों पहलवानों को गुर सिखाए लेकिन कभी किसी सम्मान की माँग नहीं की| सुजीत युवा हैं और राष्ट्रीय पहलवानों को सिखा पढ़ा रहे हैं| लेकिन खेल मंत्रालय और साई की खेल अवॉर्ड समितियों के लिए यह ज़रूरी नहीं की वास्तविक हकदार को ही अवॉर्ड दे| हर बार अवार्डों को लेकर हंगामा मचता है और ग़लत और कमतर आँके जाने वाले खिलाड़ी और कोच अवॉर्ड पाने मे सफल हो जाते हैं| पिछले साल बजरग की अनदेखी हुई तो योगेश्वर के नाम पर भी गौर नहीं किया गया| यह भी सच है कि देश केखेल संघ कई बार धाँधली को बढ़ावा देते हैं और राष्ट्रीय टीमों के साथ जुड़े अपने लाड़ले कोचों को अवार्ड दिलाने मे सफल हो जाते हैं| उनके साथ साई के अधिकारियों की मिलीभगत पाई गई है| लेकिन देश के अधिकांश खेल जानकार मानते हैं कि यदि योगेश्वर का नाम भेजा गया तो उसे सम्मान ज़रूर मिलेगा| रामधन और सुजीत भी सम्मान पा सकते हैं|

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.