क्लीन बोल्ड

क्यों डरा रहा है पेरिस ओलम्पिक?

राजेंद्र सजवान पेरिस ओलम्पिक के लिए बस चंद सप्ताह बचे हैं और दुनिया भर के खिलाड़ी अपनी अंतिम तैयारियों में जुटे हैं। हर चार साल में आने वाले खेलों के महाकुम्भ की गरिमा और महत्व हर कोई समझता है। पता नहीं भारतीय खेल आका, खिलाड़ी, खेल संघ और ओलम्पिक संघ कितना इसके लिए तैयार है। …

क्यों डरा रहा है पेरिस ओलम्पिक? Read More »

क्यों सूना पड़ा है फुटबॉल का “मैदान”?

राजेंद्र सजवान “मैदान” में अजय देवगन ने भारतीय फुटबॉल के सर्वकालीन सर्वश्रेष्ठ कोच सैयद अब्दुल रहीम की किरदार को भले ही बखूबी निभाया है लेकिन आज की भारतीय फुटबॉल की हालात पर यह फिल्म कुछ खास प्रकाश नहीं डालती है। हर फिल्म की तरह “मैदान” ने रोचक और रोमांचक पटकथा के साथ फुटबॉल प्रेमियों का …

क्यों सूना पड़ा है फुटबॉल का “मैदान”? Read More »

फुटबॉल दिल्ली: क्यों डरा रहा है फिक्सिंग का भूत!

राजेंद्र सजवान डीएसए सीनियर डिवीजन फुटबॉल लीग में उत्तराखंड और गढ़वाल डायमंड के बीच खेला गया मैच जब 3-3 की बराबरी पर छूटा तो राजधानी दिल्ली के डॉ. अम्बेडकर स्टेडियम में मिली भगत का भूत जैसे फिर जिंदा हो गया। हालांकि दोनों क्लब अधिकारियों और खिलाड़ियों ने किसी भी प्रकार की फिक्सिंग से साफ इनकार …

फुटबॉल दिल्ली: क्यों डरा रहा है फिक्सिंग का भूत! Read More »

भारतीय फुटबॉल: मैं तुझे, तू मुझे खुजला! बस सुनील अब और नहीं

राजेंद्र सजवान भारतीय फुटबॉल आज अपने सबसे बुरे और शर्मनाक दौर से गुजर रही है। फुटबॉल प्रेमियों और पूर्व खिलाड़ियों की राय में ऐसी जलालत और थू-थू शायद ही पहले कभी झेलनी पड़ी हो। हालांकि पिछले पचास सालों में हमारी टीम ने कोई बड़ा तीर नहीं चलाया फिर भी तब बड़े-बड़े दावे नहीं किए जाते …

भारतीय फुटबॉल: मैं तुझे, तू मुझे खुजला! बस सुनील अब और नहीं Read More »

…क्योंकि दीपक शर्मा खेल मंत्री के प्रदेश से हैं!

राजेंद्र सजवान ऐसा कदापि नहीं है कि कल्याण चौबे के अध्यक्ष बनने के बाद से ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (एआईएफएफ) में भ्रष्टाचार, व्यभिचार और लूट-खसोट बढ़ी है। ऐसा पहले भी होता था और आने वाले सालों में भी फेडरेशन की जड़ों में बैठी बीमारी भारतीय फुटबॉल खिलाड़ियों और खेल के चाहने वालों को हैरान परेशान …

…क्योंकि दीपक शर्मा खेल मंत्री के प्रदेश से हैं! Read More »

…क्योंकि एज फ्रॉड हमारा राष्ट्रीय चरित्र है!

राजेंद्र सजवान हाल ही में एक ब्रिटिश पत्रिका के सर्वे में रोनाल्डो, मेसी, नेमार, हॉलैंड, रोबर्ट लेवांडोस्की, साडियो माने, किलियन एम्बाप्पे और दर्जनों अन्य फुटबॉलरों की जीवन यात्रा पर विस्तृत लेख छपे हैं और उनकी कामयाबी व उन पर हुई धनवर्षा के बारे में ऐसा बहुत कुछ प्रकाशित हुआ, जो कि भविष्य के खिलाड़ियों के …

…क्योंकि एज फ्रॉड हमारा राष्ट्रीय चरित्र है! Read More »

जलती फुकती फुटबॉल, नीरो बंसी में मगन

राजेंद्र सजवान देर से ही सही देश का खेल मंत्रालय भारतीय फुटबॉल की बर्बादी और तमाम अनियमितताओं को लेकर गंभीर नजर आया है। कुछ अधिकारी यह भी मानते हैं कि पिछले एशियाड में कमजोर और असंगठित टीम को उतारना भारी भूल थी। मंत्रालय ने शायद इसीलिए कदम उठाया है, क्योंकि फुटबॉल फेडरेशन, उसकी सदस्य इकाइयां, …

जलती फुकती फुटबॉल, नीरो बंसी में मगन Read More »

सब कुछ लुटा कर होश में आए तो क्या किया!

राजेंद्र सजवान देर से ही सही पूर्व भारतीय फुटबॉलरों के मुंह पर लगे ताले खुलने लगे हैं। पांच दशकों तक जिनकी जुबान पर ताले लगे रहे और भारतीय फुटबॉल की बेहतरी के लिए जिनके दिल-दिमाग ने काम करना बंद कर दिया था अब बेहोशी से बाहर निकल रहे हैं। अफगानिस्तान के हाथों हुई पिटाई का दर्द …

सब कुछ लुटा कर होश में आए तो क्या किया! Read More »

भारतीय फुटबॉल, गिरावट की हद पार!

राजेंद्र सजवान भारतीय फुटबॉल के कर्णधार अपनी टीम को वर्ल्ड कप में खेलते देखना चाहते हैं। ख्याल बुरा नहीं है। फिर भी अपनी हैसियत पर नजर डाल कर कोई लक्ष्य निर्धारित किया जाए तो बेहतर रहेगा। हाल के प्रदर्शन पर नजर डालें तो वर्ल्ड कप खेलने का सपना देखना भी भारतीय फुटबॉल के लिए पाप …

भारतीय फुटबॉल, गिरावट की हद पार! Read More »

भारतीय फुटबॉल: जैसे फुटबॉल ने दम तोड़ा है!

राजेंद्र सजवान फीफा वर्ल्ड रैंकिंग में 158वें नंबर के अफगानिस्तान से ड्रा खेलकर भारतीय फुटबॉल टीम ने न सिर्फ अपनी फजीहत में बढ़ोतरी की है बल्कि यह भी दिखाया है कि चाहे लाख कोशिश करें, करोड़ों रुपये बहाएं, तो भी भारतीय फुटबॉल नहीं सुधरने वाली। 117वें नंबर के भारतीय खिलाड़ी वर्ल्ड कप क्वालीफायर में उस …

भारतीय फुटबॉल: जैसे फुटबॉल ने दम तोड़ा है! Read More »