हार का मातम कब तक?

राजेंद्र सजवानन्यूजीलैंड के हाथों हुई हार के बाद से भारतीय क्रिकेट की चीर फाड़ शुरू हो चुकी है| खिलाड़ियों, कोच और अन्य अधिकारियों को गुनहगार साबित करने का अभियान सा चल निकला है| कप्तान, विराट कोहली, सबसे सफल बल्लेबाज रोहित शर्मा, धोनी, पंत, रवि शास्त्री और तमाम पर आरोप लगाए जा रहे हैं| अर्थात पिछले … Continue reading हार का मातम कब तक?

Advertisements

अहंकार और पागल मीडिया ले डूबे

राजेंद्र सजवान भारतीय क्रिकेट टीम का विश्व विजेता बनने का सपना टूट चुका हैं लेकिन पोस्टमॉर्टम बदस्तूर जारी है| कोई कप्तान कोहली को कोस रहा है तो कुछ एक रोहित शर्मा, पंत और पांड्या को बुरा भला कह रहे हैं| लेकिन पता नहीं क्यों कुछ तथाकथित क्रिकेट एक्सपर्ट महेंद्र सिंह धोनी को बलि का बकरा … Continue reading अहंकार और पागल मीडिया ले डूबे

खेल कबूतरबाजी का!

राजेंद्र सजवान चौतरफा समस्याओं से घिरे भारतीय खेलों के सामने कबूतरबाजी की बड़ी समस्या जटिल रूप लेती जा रही है। यह सही है कि भारतीय खिलाड़ी हजारों की मात्रा में विदेशों में खेलने जाते हैं। ओलंपिक, विश्व कप, विश्व चैंपियनशिप,एशियाड, कामनवेल्थ और अन्य मान्यताप्राप्त अन्यर्राष्ट्रीय आयोजनों में भाग लेना जरूरी है। और भी कई बड़े … Continue reading खेल कबूतरबाजी का!

PM से फुटबॉल की गुहार

राजेंद्र सजवान आईएसएल और आई लीग के आयोजन को भारतीय फुटबॉल की तरक्की का मापदंड मानने वाले और दुनियाँभर मे अपनी फुटबॉल मे सुधार का ढोल पीटने वालों की खुशफ़हमी अब दूर हो जानी चाहिए, क्योंकि देश के छह आईलीग क्लबों नें प्रधानमंत्री से अपने बचाव के लिए गुहार लगाई है| देश के सबसे पुराने … Continue reading PM से फुटबॉल की गुहार

ऐसे कैसे खेलेगा इंडिया!

राजेंद्र सजवान 'खेलो इंडिया', यह नारा तीन साल पहले आयोजन की शक्ल ले चुका है| पहले 17 साल तक के खिलाड़ियों का आयोजन और उसके बाद 21 साल तक के खिलाड़ियों का खेलो इंडिया यूथ गेम्स आयोजित करने के पीछे चाहे मंशा कोई भी रही हो लेकिन देश के खेल जानकारों, पूर्व खिलाड़ियों, खेल प्रशासकों … Continue reading ऐसे कैसे खेलेगा इंडिया!

चूँकि गुलामों को बग़ावत का हक नहीं …

राजेंद्र सजवान चूँकि कामनवेल्थ खेल महासंघ ने 2022 के बर्मिंघम कामनवेल्थ खेलों मे शूटिंग को शामिल नहीं किया है, इसलिए भारत को इन खेलों का बायकाट करना चाहिए| भारतीय शूटिंग महासंघ(एनआरएआई) ने भारतीय ओलंपिक संघ और खेल मंत्रालय से इस प्रकार का आग्रह किया है| बेशक, कामनवेल्थ खेलों की पितृ संस्था का यह फ़ैसला हैरान … Continue reading चूँकि गुलामों को बग़ावत का हक नहीं …